Saturday, November 18, 2017

हम हिंदुस्तानी

  हम हिंदुस्तानी 

यह हिन्द देश है हमारा 
इसके सारे पाइक हम 
अलग धर्म जाती हमारे  
इसमें सारे समाईक हम 

विलग विलग ढंग हमारे 
मर्म हमारा एक है 
दुनिया में सबसे निराला 
देश हमारा अकेला है 

कण में इसके पुराण भरा  
अनादि काल से दृढ़ है 
युगो युगो से पुनीत है यह 
ईस्वरीय अवतार हुवे यहाँ  

राम कृष्ण यहाँ जन्मे 
खड़गे बिना बापू जीते
यह पुण्य भूमि है अलग 
जहाँ है हम सारे निपजे  

त्रि दिशाओ में समुद्र जुड़े 
उत्तर में हिमालय खड़ा 
त्रिभुज यह जमींन पर 
नदियोंने दिया है आसरा 

श्रुतु यहापर छह निराले 
मधुरतम यहांकी हवा सुरीली 
हर प्रान्त की भाषा निराली 
पर लोग सब एक यहाँ 

हिन्द के निवासी हम सारे 
भक्ति प्यारके है प्यासे